• Tue. Mar 5th, 2024

The uk pedia

We Belive in Trust 🙏

फर्जी पद नाम की नेम प्लेट लगाकर मरीज देखने पर डॉक्टर के खिलाफ कार्यवाही की मांग. सूचना के अधिकार में हुआ खुलासा…. 

Dec 27, 2022
Spread the love
मनोज उनियाल
श्रीनगर। राजकीय संयुक्त उप जिला चिकित्सालय Combined Sub District Hospital Srinagar Garhwal में विवाद थमने के नाम नहीं ले रहे हैं। अभी एक डॉक्टर को उनके ओपीडी कक्ष से हटाने का मामला शांत भी नहीं हुआ था कि एक नया विवाद सामने आया है। सूचना के अधिकार में खुलासा हुआ है कि इस चिकित्सालय में वर्षों से कार्यरत डॉ.अजय गोयल अपने ओपीडी कक्ष में अपने पद की नेम प्लेट ना लगाकर एमडी फिजिशियन MD Physician की नेम प्लेट लगाकर मरीजों का उपचार कर रहे थे। हैरत की बात यह है कि अस्पताल प्रशासन ने भी कभी उनकी एमडी फिजिशियन लिखी नेम प्लेट हटवाने की जहमत नहीं उठाई। इस लापरवाही पर डॉ गोयल के खिलाफ विभागीय दंडात्मक कार्यवाही किए जाने की मांग की गई है।
श्रीनगर के कंसमर्दिनी मार्ग निवासी आनंद सिंह भंडारी ने उप जिला चिकित्सालय श्रीनगर से विगत 9 नवंबर को सूचना के अधिकार में सूचना मांगी कि उप जिला चिकित्सालय श्रीनगर में कुल स्वीकृत फिजिशियनों के पद कितने हैं व डॉ.अजय गोयल Dr Ajay Goyal  किस पद पर कार्यरत हैं। इसके अतिरिक्त उन्होंने कुछ अन्य सूचनाएं भी मांगी। इसके जवाब में 7 दिसंबर को मिले पत्र के माध्यम से उन्हें बताया गया कि चिकित्सालय में दो फिजिशियन के पद रिक्त हैं जिसके सापेक्ष वर्तमान समय में एक फिजिशियन डॉ. सुरेश कोठियाल कार्यरत हैं। साथ ही बताया गया कि डॉ अजय कुमार गोयल जनरल ड्यूटी मेडिकल ऑफिसर के पद पर कार्यरत हैं। इस संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी पौड़ी को भेजे ज्ञापन में भंडारी ने कहा कि जीडीएमओ होने के बावजूद डॉ.गोयल अपनी ओपीडी में कई वर्षों से एमडी फिजिशियन की नेम प्लेट लगाकर भोले भाले मरीजों के साथ खिलवाड़ करते रहे। उनके द्वारा उत्तराखंड राज्य कर्मचारी आचरण नियमावली का उल्लंघन किया गया है, जो कि मरीजों के लिए गंभीर खतरा है। इस मनमानी के खिलाफ आज तक अस्पताल प्रशासन द्वारा कार्यवाही नहीं किया जाना कई सवाल खड़े करता है। उन्होंने जनहित में डॉक्टर गोयल के खिलाफ विभागीय दंडात्मक कार्यवाही किए जाने की मांग की,
मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर गोविंद पुजारी Dr Govind Pujari ने कहा कि जनरल ड्यूटी मेडिकल ऑफीसर (GDMO) डॉ अजय गोयल को फिजीशियन नाम का प्रयोग न करने को लेकर निर्देशित कर दिया गया है साथ ही उन्हे नेम प्लेट हटाने को लेकर भी निर्देशित किया गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page